स्मार्टफोन गूगल ऐसिस्टेंट और सिरी के जरिए हो सकते है Hack !

9

जालंधर- अाज के समय में स्मार्टफोन्स पर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड पर्सनल ऐसिस्टेंट का ट्रेंड तेजी से बढ़ रहा है। जिनमें सिरी, गूगल ऐसिस्टेंट, बिक्सबी और ऐलेक्सा जैसे AI प्रोग्राम का नाम अाता हैं। जानकारी के अनुसार चीन की झेजियांग यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स की एक टीम ने एक ऐसा तरीका ढूंढ निकाला है जिसके जरिए बिना कोई शब्द बोले ही वायस रिकॉग्निशन ऐक्टिवेट किया जा सकता है।

इस तरीके को डॉल्फिन अटैक भी कहा जाता है, इसके तहत अल्ट्रसॉनिक फ्रिक्वेंसी को यूज करके आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड वर्चुअल ऐसिस्टेंट को ऐक्टिवेट करता है। ये फ्रिक्वेंसी इंसानों को सुनाई नहीं देती हैं, लेकिन स्मार्टफोन के माइक्रोफोन इसे आसानी से सुन सकते हैं।

इस तकनीक से आपके स्मार्टफोन के किसी एप्प में ऐक्सेस कर सकते है और आपको पता भी नहीं चलेगा। कमांड्स दे कर हैकर्स आपके स्मार्टफोन के वर्चुअल ऐसिस्टेंट को हाइजैक कर लेंगे और कमांड्स देकर इसका गलत इस्तेमाल भी कर सकते हैं।वॉयस कमांड के जरिए आपके स्मार्टफोन में खतरनाक वेबसाइट खोलकर आपकी डिवाइस को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

रिसर्चर्स के मुताबिक डॉल्फिन अटैक वॉयस कमांड्स को आप सुन नहीं सकते लेकिन हार्डवेयर इसे सुनकर समझ भी सकते हैं. क्योंकि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड एप्प को नहीं पता कि आप कमांड दे रहे हैं या कोई हैकर है।

बता दें कि इस अटैक से एंड्रॉयड और आईफोन दोनों ही मुश्किल में आ सकते हैं। अब चाहे आप आईफोन यूज करें या फिर कोई दूसरा स्मार्टफोन, आपके लिए खतरा बना हुआ है।

You might also like More from author