प्रदेश में नदी अभियान को पूरी तरह से सफल बनायें-मुख्यमंत्री श्री चौहान

4

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में नदी अभियान को पूरी तरह से सफल बनायें। इस पवित्र अभियान में समाज के सभी वर्गों और सामाजिक संगठनों की भागीदारी रहे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज यहाँ मंत्रालय में नदी अभियान – रैली फॉर रिवर्स की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। सदगुरू श्री जग्गी वासुदेव द्वारा नदी और पर्यावरण संरक्षण के लिये गत 3 सितम्बर को कोयम्बटूर से शुरू किये गये इस जनजागरण अभियान के तहत प्रदेश में उनकी यात्रा 21 से 24 सितम्बर तक रहेगी। इस दौरान इंदौर, भोपाल और विदिशा में कार्यक्रम होंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नदी अभियान नदियों और पर्यावरण के संरक्षण के लिये ईशा फाउण्डेशन द्वारा शुरू किया गया है। पवित्र उद्देश्य से शुरू इस अभियान में सभी संभव सहयोग दिया जाये। समाज के सभी वर्गों और संगठनों को इससे जोड़ा जाये। इसके माध्यम से नदी, पेड़, पानी, मिट्टी और पर्यावरण के लिये जागरूकता लायी जाये। कार्यक्रम में नर्मदा सेवा समितियों के प्रतिनिधियों, नदी संरक्षण के लिये काम करने वाले नदी सेवकों और उन्नत किसानों को भी आमंत्रित किया जाये।

बताया गया कि प्रदेश में यात्रा के दौरान इंदौर, भोपाल और विदिशा में आयोजित कार्यक्रमों को सदगुरू श्री जग्गी वासुदेव द्वारा संबोधित किया जायेगा। यह यात्रा आगामी 21 सितम्बर को दाहोद से प्रवेश कर झाबुआ, राजगढ़, मनावर और धामनोद होते हुए महेश्वर पहुँचेगी। यहाँ सांस्कृतिक कार्यक्रम और नर्मदा यात्रा के बारे में जानकारी दी जायेगी। अगले दिन 22 सितम्बर को दोपहर को यात्रा इंदौर पहुँचेगी। यहाँ डेली कॉलेज में शाम पाँच बजे कार्यक्रम किया जायेगा, जिसमें मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में प्रसिद्ध गायिका नीति मोहन द्वारा प्रस्तुति दी जायेगी। अगले दिन 23 सितम्बर को दोपहर यात्रा भोपाल आयेगी। यहाँ शाम छह बजे से कार्यक्रम होगा। यहाँ पर प्रसिद्ध लोक गायक श्री प्रहलाद टिपाणिया का कार्यक्रम होगा। इसके अगले दिन 24 सितम्बर को सुबह यात्रा विदिशा पहुँचेगी वहाँ बाढ़ वाले गणेश मंदिर प्रांगण में कार्यक्रम किया जायेगा। यहाँ से यात्रा ललितपुर, झाँसी होते हुए कानपुर जायेगी। इसी दिन प्रदेश के स्कूलों में बच्चे नदी अभियान का संकल्प लेंगे।

बैठक में मुख्य सचिव श्री बी.पी.सिंह, अपर मुख्य सचिव श्री दीपक खांडेकर और श्री बी.आर. नायडू, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती दीप्ति गौड़ मुखर्जी, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री एस.के. मिश्रा, भोपाल, इंदौर, खरगोन और विदिशा के कलेक्टर उपस्थित थे।

You might also like More from author